Hindi

बाप पर उतरे शिवसेना के संजय राउत, कंगना ने कहा- मेरा क्या उखाड़ोगे, इस्लाम डोमिनेट इंडस्ट्री में जान दॉंव पर लगाया

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जॉंच में मुंबई पुलिस के रवैए को लेकर लगातार सवाल उठते रहे हैं। इस संबंध में कंगना रनौत भी लगातार मुखर रही हैं। उन्होंने मुंबई पुलिस की सुरक्षा से इनकार करते हुए यहॉं तक कह दिया था कि आज माफिया से ज्यादा डर उन्हें मुंबई पुलिस से लगता है। इसके बाद से महाराष्ट्र का सत्ताधारी गठबंधन खासकर शिवसेना उन पर हमलावर है।

शिवसेना संसद संजय राउत ने ट्वीट कर मुंबई पर केवल मराठियों का अधिकार बताया है। साथ ही यह भी कहा है कि शिवसेना महाराष्ट्र के ऐसे दुश्मनों को खत्म किए बिना नहीं रुकेगी। उन्होंने लिखा “मुंबई मराठी मानुष के बाप की ही है, जिन्हें यह मँजूर नहीं वह अपना बाप दिखाएँ। शिवसेना महाराष्ट्र के दुश्मनों का श्राद्ध किए बगैर नहीं रहेगी, प्रॉमिस जय हिंद जय महाराष्ट्र।”

इस ट्वीट के बाद कंगना रनौत की भी प्रतिक्रिया आई है। उन्होंने अपने हालिया ट्वीट में मराठी लिबास में तस्वीर साझा की और लिखा, “किसी के बाप का नहीं है महाराष्ट्र, महाराष्ट्र उसी का है जिसने मराठी गौरव को प्रतिष्ठित किया है। मैं डंके की चोट पे कहती हूँ, हाँ मैं मराठा हूँ, उखाड़ो मेरा क्या उखाड़ोगे।”

एक ट्वीट में उन्होंने अपने काम का जिक्र करते हुए लिखा, “इनकी औक़ात नहीं है, इंडस्ट्री के सौ सालों में एक भी फ़िल्म मराठा प्राइड पर बनाई हो, मैंने इस्लाम डॉमिनेट इंडस्ट्री में अपनी जान और करियर को दॉंव पर लगाया। शिवाजी महाराज और रानी लक्ष्मीबाई पर फ़िल्म बनाई। आज महाराष्ट्र के इन ठेकेदारों से पूछो, क्या किया है महाराष्ट्र के लिए?”

उन्होंने उन सभी लोगों को चापलूस बताया जो महाराष्ट्र के लिए आज फर्जी प्यार दिखा रहे हैं। उन्होंने लिखा, “हर चापलूस जो महाराष्ट्र के लिए प्रेम दिखा रहे हैं उन्हें पता होना चाहिए कि मैं हिंदी सिनेमा के इतिहास में पहली एक्टर व निर्देशक हूँ जो मराठा के गौरव शिवाजी महाराज और रानी लक्ष्मीबाई को बड़े पर्दे पर लाई। इसके लिए मुझे फिल्मों के रिलीज पर कई विरोध का सामना भी करना पड़ा।”

इससे पहले कंगना रनौत ने एक ट्वीट करते हुए चुनौती दी थी कि वह मुंबई आएँगी और टाइम भी पोस्ट करेंगी। उन्होंने लिखा था, “मैं देख रही हूँ कई लोग मुझे मुंबई वापस न आने की धमकी दे रहे हैं, इसलिए मैंने तय किया है कि 9 सितंबर को मुंबई आऊँगी। मैं मुंबई एयरपोर्ट पर पहुँचकर टाइम पोस्ट करूँगी, किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले।”

गौरतलब है कि संजय राउत से पहले शिवसेना के ही विधायक प्रताप सरनाईक ने कंगना को खुलेआम धमकी दी थी। प्रताप सरनाईक ने ट्विटर पर लिखा, “अगर वह यहाँ आती है, तो हमारे योद्धा उसका मुँह तोड़ देंगे। मैं गृह मंत्री से अनुरोध करता हूँ कि वह कंगना रनौत के खिलाफ मुंबई को पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) बताने के लिए राजद्रोह का मुकदमा दर्ज करे।”

वहीं, राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने भी कंगना के ख़िलाफ़ मुकदमा दर्ज करने की बात कही है। उनके पीओके वाले बयान पर MNS ने कहा, “POK के साथ मुंबई की तुलना करने पर कंगना के खिलाफ राजद्रोह के आरोपों के तहत केस दर्ज हो।”

इसी प्रकार महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने भी मुंबई के बारे में कंगना के बयान को गलत बताया। साथ ही कहा कि जिसकी मुंबई के बारे में ऐसी सोच है उसे मुंबई में रहने का अधिकार नहीं है। जिस पर कंगना ने अपने ट्विटर अकाउंट से उन्हें जवाब दिया। उन्होंने खबर शेयर करते हुए लिखा, “वह मेरे संवैधानिक अधिकारों को छीनने का प्रयास कर रहे हैं, एक ही दिन में यह पीओके से तालिबान बन गया।”

बता दें, अनिल देशमुख ने एक ट्वीट में लिखा था, “मुंबई पुलिस की तुलना स्कॉटलैंड की पुलिस से होती है। कुछ लोग मुंबई पुलिस को निशाना बनाने की कोशिश कर रहे हैं। एक IPS अधिकारी इसके खिलाफ अदालत में गए हैं। उन्हें मुंबई या महाराष्ट्र में रहने का कोई अधिकार नहीं है।”

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top