Hindi

राजस्थान: महीने भर की तल्खी और शीत युद्ध के बाद आज होगा अशोक गहलोत-सचिन पायलट का आमना-सामना

राजस्थान में चले सियासी संकट के खत्म होने की घोषणा के तीन दिन बाद आज पहली बार मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट का आमना-सामना होगा। बीते एक महीने तक एक दूसरे के चिर-प्रतिद्वंदी बने अशोक गहलोत और सचिन पायलट आज कांग्रेस विधायक दल की बैठक में मुलाकात कर सकते हैं। सूत्रों की मानें तो शुक्रवार से शुरू होने वाले विधानसभा सत्र से पहले आज कांग्रेस विधायक दलों की बैठक है और इसी बैठक में दोनों नेताओं का सियासी घटनाक्रम के बाद पहली बार आमना-सामना होगा।

दरअसल, कांग्रेस आलाकमान बातचीत कर सचिन पायलट जयपुर लौट आए हैं। सचिन पायलट, कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से मुलाकात के बाद मंगलवार को जयपुर लौटे, मगर उसी दिन उनके जयपुर पहुंचते ही मुख्यमंत्री गहलोत जैसलमेर के लिए निकल गए थे, जहां कांग्रेस के विधायक ठहरे हुए थे। हालांकि, बुधवार को गहलोत जयपुर आ गए। मगर बुधवार को भी दोनों नेताओं के बीच कोई मुलाकात नहीं हुई। यही वजह है कि आज इन दोनों के कांग्रेस विधायक दल की बैठक में मुलाकात करने की संभावना ज्यादा प्रबल है।

बता दें कि माना जा रहा है कि सचिन पायलट और उनके खेमे वाले विधायकों की वापसी के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सरकार के पास पूर्ण बहुमत है। मगर इसके बाद भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कोई रिस्क नहीं लेना चाहते हैं और शुक्रवार से शुरू होने वाले विधानसभा सत्र में विश्वास मत हासिल करेंगे। ऐसा बहुत कम होता है कि सत्तापक्ष खुद विश्वास मत का प्रस्ताव पेश करे, पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कोई जोखिम नहीं लेना चाहते। इसलिए 14 अगस्त से शुरू होने वाले विधानसभा सत्र में सरकार प्रस्ताव पेश करेगी।

वहीं, बुधवार को पत्रकारों से बातचीत में अशोक गहलोत ने कहा कि जिस तरह से यह पूरा घटनाक्रम हुआ, उससे विधायक वास्तव में परेशान थे। मैंने उन्हें समझाया कि कभी-कभी हमें सहनशील होने की आवश्यकता होती है यदि हमें राष्ट्र, राज्य और लोगों की सेवा करनी है और लोकतंत्र को बचाना है।

गौरतलब है कि बीते दिनों राजस्थान में सियासी संकट आने पर अशोक गहलोत खेमे के विधायकों होटल फेयरमाउंट में रखा गया था। उसके बाद खरीद-फरोख्त के डर से इन विधायकों को जैसलमेर के होटल सूर्यगढ़ में शिफ्ट किया गया। वहां करीब 12 दिन तक बाड़ाबंदी में रहने के बाद बुधवार को विशेष विमान से जैसलमेर से जयुपर शिफ्ट किया गया, जहां उन्हें फिर से होटल फेयरमाउंट में रख दिया गया है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WHATS HOT

Most Popular

To Top