Hindi

शिकागो विवि प्रतिनिधि से बोले राहुल, ट्रोलर्स को बताया अपना मार्गदर्शक

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शुक्रवार को शिकागो विवि के प्रतिनिधि दीपेश चक्रवर्ती के साथ ऑनलाइन चर्चा में कुछ बातें खुलकर कहीं। उन्होंने कहा कि मैं जैसे-जैसे आगे बढ़ रहा हूं, वैचारिक हमले तेज हो रहे हैं।

कांग्रेस नेता शिकागो यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर दीपेश चक्रवर्ती से विभिन्न मुद्दों पर चर्चा के दौरान कहा कि मुझे गर्व है कि मेरी दादी और पिता एक विचार का बचाव करते हुए मारे गए। यह मुझे उनकी और मेरी जगह को समझने में मदद करता है और यह भी कि मुझे क्या करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि जैसा कि मैं इस यात्रा में और आगे बढ़ चुका हूं, तो वे विचार और अधिक स्फूर्त हुए हैं। यदि आप मुझसे पूछेंगे कि मैंने 15-20 साल पहले राजनीति में शामिल होने का फैसला क्यों किया, तो मेरा जवाब आज जो होगा उससे बहुत अलग होगा जो मैं उस समय देता।

राहुल गांधी ने आगे कहा कि जैसे-जैसे मैं आगे बढ़ता हूं, विचारों की लड़ाई तेज होती जाती है। जैसा कि अन्य विचार मुझ पर हमला करते हैं, तो यह मुझे खुद को और बेहतर बनाने में मदद करता है। ट्रोलर्स ने मेरी समझ को तेज किया कि मुझे क्या करना है। वे लगभग मेरे लिए मार्गदर्शक की तरह हैं, वे मुझे बताते हैं कि मुझे कहां जाना है और मुझे किस चीज के लिए खड़ा होना है, यह एक विकास है।

ये भी पढ़े –कर्नाटक के मदरसों में आधुनिक शिक्षा गरमाई सियासत

Subscribe to our channels on Facebook & Twitter & WhatsApp

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top