Elections

पीएम मोदी अपने भाषणों में लगा रहे दीदी… दीदी… ओ दीदी का रट, क्या है इसके पीछे की वजह

aatmanirbhar

पश्चिम बंगाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी चुनावी सभाओं में ममता बनर्जी पर हमला बोलने का एक नया तरिका ईजाद किया है। वह अपने भाषणों के दौरान , दीदी….दीदी….ओ दीदी….अरे दीदी का रट लगाते नजर आ रहे हैं। आइए जानते है ममता बनर्जी पर इस तरीके से तंज मारने के पीछे की क्या है वजह-

वरिष्ठ पत्रकार पंकज सिन्हा कहते हैं कि हिन्दी भाषी, दूसरे राज्यों से गए लोगों की प्रधानमंत्री की जनसभा में संख्या ठीक-ठाक होती है। पंकज के मुताबिक हिन्दी पट्टी से गए लोग पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के लोगों से परेशान हैं। इसलिए जब प्रधानमंत्री दीदी…दीदी कहते हैं तो हिन्दी पट्टी से लेकर तृणमूल कांग्रेस की राजनीति से निराश लोगों को काफी खुशी होती है। बताते हैं कि जनसभा में बीच-बीच में भाजपा के कार्यकर्ता और अन्य लोगों से नारे लगवाकर वह उत्साह बढ़ाते हैं।

कोचगवे कहते हैं कि इससे राज्य का अल्पसंख्यक, तृणमूल का कार्यकर्ता, नेता और तृणमूल का साथ देने वाले बंगाल मूल के लोग चिढ़ते हैं। हालांकि सान्याल का कहना है कि इससे भाजपा को जितना फायदा होगा, उससे अधिक नुकसान हो सकता है। क्योंकि सभ्य बंगाली समाज में इस तरह के व्यवहार की अधिक गुंजाइश नहीं रहती।

वहीँ पत्रकार शांतनु कहते हैं कि प्रधानमंत्री की पश्चिम बंगाल में फॉलोइंग है। उनकी जनसभा में भीड़ भी होती है। वह और अमित शाह पश्चिम बंगाल के चुनाव प्रचार में पर्याप्त समय दे रहे हैं। कुल मिलाकर मकसद मनोवैज्ञानिक युद्ध छेड़कर ममता बनर्जी और तृणमूल को नुसकान पहुंचाना ही है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WHATS HOT

Most Popular

To Top