Delhi

चीनी एप पर बैन का कांग्रेस ने किया समर्थन, कहा- केंद्र सरकार उठाए और भी प्रभावी कदम

नई दिल्ली,केंद्र सरकार द्वारा 59 चीनी एप्लीकेशन को प्रतिबंधित करने के फैसले का कांग्रेस ने स्वागत किया और कहा कि केंद्र को और भी प्रभावी कदम उठाने होंगे। भारत ने सोमवार को चीन से जुड़े सभी 59 एप पर बैन लगा दिया। इसमें सर्वाधिक लोकप्रिय एप टिकटॉक ( TikTok ), वीचैट (WeChat) , बीगो लाइव (Bigo Live) और यूसी ब्राउजर (UC Browser) भी शामिल हैं।

दरअसल, केंद्र सरकार ने यह कदम भारत-चीन सीमा पर बढ़े तनाव के मद्देनजर उठाया है। भारत सरकार ने 59 चीनी एप्लीकेशन को प्रतिबंधित कर दिया है। प्रतिबंधित एप की लिस्ट में हेलो ( Helo) , लाइक (Likee), कैम स्कैनर (CamScanner), विगो विडियो (Vigo Video),एमआइ वीडियो कॉल- जियाओमी (Mi Video Call – Xiaomi) , क्लैश ऑफ किंग्स (Clash of Kings) के साथ इ-कॉमर्स प्लेटफार्म क्लब फैक्ट्री (Club Factory) और शीन (Shein) भी शामिल है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल (Senior Congress leader Ahmed Patel) ने कहा कि भारतीय आर्मी पर चीनी सेना के हमले के मद्दनजर यह कदम स्वागत योग्य है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘हम चीनी एप पर प्रतिबंध के सरकार के फैसले का स्वागत करते हैं। हमारे क्षेत्र में घुसकर देश के जवानों पर हमला करने वाले चीन के खिलाफ सरकार को और भी इस तरह के प्रभावी कदम उठाने की उम्मीद करते हैं।’ कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा, ‘चीनी एप को प्रतिबंधित करना अच्छा आइडिया है। चीनी टेलीकॉम व अन्य चीनी कंपनियों से पीएम केयर्स (PM CARES) में आने वाले फंड का क्या होगा ? अच्छा आइडिया है या खराब।’

बता दें कि केंद्र ने चीनी सामानों के आयात पर प्रतिबंध लगाने से पहले औद्योगिक संगठनों एवं अन्य मैन्युफैक्चरिंग एसोसिएशन व निर्यातकों की राय मांगी गई है । इनसे पूछा गया है कि चीन से आयात पर प्रतिबंध लगाने पर उनके पास पर्याप्त विकल्प हैं या नहीं। उल्लेखनीय है कि टेलीकॉम और चीनी एप को प्रतिबंधित करने के बाद अब आयात पर लगाम कसने की तैयारी में सरकार लगी हुई है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top