Politics

नंदीग्राम चुनौती नहीं, ममता बनर्जी को 50 हजार वोटों से हराने का दावा बोले शुभेंदु अधिकारी

suvendu-adhikari

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (Bengal Assembly Elections 2021) के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी (BJP Candidate List) कर दी है। भगवा पार्टी ने नंदीग्राम विधानसभा सीट से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ शुभेंदु अधिकारी को मैदान में उतारा है। नंदीग्राम से उम्मीदवारी के ऐलान के बाद शुभेंदु अधिकारी ने कहा है कि यह सीट उनके लिए चुनौती नहीं है और वह ममता बनर्जी को 50 हजार वोटों से हरा देंगे। पश्चिम बंगाल के मुझीपारा में एक रैली के दौरान उन्होंने यह भी कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी के योगदान के बिना यह भारत इस्लामिक देश बन जाता और आज हम बांग्लादेश में होते।

शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि उन्हें 200 प्रतिशत उम्मीद है कि 50,000 से अधिक मतों के अंतर से ‘दीदी’ को हराएंगे। नंदीग्राम से टिकट मिलने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए, अधिकारी ने कहा, “लड़ाई नंदीग्राम से नहीं है। लड़ाई भ्रष्टाचार के खिलाफ है। बंगाल में एक मजबूत सत्ता-विरोधी लहर है।”

शुभेंदु अधिकारी ने कहा, ‘मैं पार्टी नेतृत्व को इस जिम्मेदारी के लिए धन्यवाद देता हूं। मैं नंदीग्राम और पश्चिम बंगाल में कमल खिलाने के लिए काम करूंगा।” इससे पहले एक टीवी चैनल से बात करते हुए अधिकारी ने कहा, “पश्चिम बंगाल सरकार हर चीज पर विफल रही है। कोई उद्योग नहीं। कोई विकास कार्य नहीं। लोगों को बदलाव की जरूरत है। पश्चिम बंगाल भी बदलाव चाहता है। नंदीग्राम भी बदलाव चाहता है।” शुभेंदु अधिकारी ने कहा, “मैं 200 प्रतिशत आश्वस्त हूं। यह व्यक्तिगत लड़ाई नहीं है, यह भाजपा के बैनर तले एक सामूहिक लड़ाई है।”


अधीकारी ने कहा कि भाजपा आगामी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में भारी अंतर से जीत हासिल करेगी। नंदीग्राम तृणमूल कांग्रेस का पारंपरिक गढ़ नहीं है। उन्होंने कहा कि 2007 के नंदीग्राम आंदोलन से पहले यहां वामपंथी का एक मजबूत आधार था।” अधिकारी ने भी टीएमसी के इस आरोप का जवाब दिया कि उन्होंने पार्टी को धोखा दिया है। उन्होंने कहा, “भाजपा एक निजी सीमित पार्टी नहीं है। यह एक अनुशासित पार्टी, संगठित पार्टी, कैडर आधारित पार्टी है।”


बंगाल में ममता बनर्जी को पराजित करने की स्थिति में वह भाजपा में मुख्यमंत्री का चेहरा हो सकते हैं, इसकी अटकलों पर प्रतिक्रिया करते हुए, शुभेंदु अधिकारी ने कहा, “बीजेपी में फैसले किसी एक व्यक्ति द्वारा नहीं लिए जाते हैं। मैं पार्टी का अनुशासित सिपाही हूं। हम सब एक टीम की तरह काम कर रहे हैं। मैं काल्पनिक सवालों के जवाब नहीं देना चाहता।”

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top