Hindi

तमिलनाडु में डीएमके ने कोड ऑफ कंडक्ट की उड़ाई धज्जिया, चुनाव आयोग ने दी ऎसी हिदायत

dmk

Tamil Nadu Election 2021: तमिलनाडु के मुख्य चुनाव अधिकारी ने वहां के पुलिस महानिदेशक जे. के. त्रिपाठी से एक अज्ञात महिला के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के लिए सिफारिश की है। मामला सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक वीडियो पोस्ट करने से जुड़ा हुआ है।

मुख्य चुनाव अधिकारी ने उस अज्ञात महिला के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने के साथ-साथ उसके द्वारा पोस्ट वीडियो को सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से हटाने के लिए भी कहा हैं।

दरअसल तमिलनाडु में 50 सालों से अंतरजातीय विवाह को बढ़ावा देने के लिए एक स्कीम चलती है। डीएमके ने इसे सुचारू रूप से और अच्छे ढंग से चलाने के लिए अपने चुनावी घोषणा पत्र में शामिल किया है। इसी मुद्दे को महिला वीडियो के माध्यम से जातीय रंग देने की कोशिश कर रही हैं।

डीएमके ने अपने घोषणा पत्र में अंतरजातीय विवाह करने वाले को आर्थिक लाभ देने की बात कही है। इसी बात को मुद्दा बनाकर महिला अपनी विडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया।

महिला वीडियो में डीएमके के घोषणा पत्र में शामिल ओबीसी और एससी समुदाय के बीच अंतरजातीय विवाह को बढ़ावा देने वाले मुद्दे को इन समुदाय के लिए खतरनाक बताया है। वह राज्य में सामाजिक अराजकता का कारण बनेगा। इस समुदाय से जुड़े लोगों से डीएमके को वोट नहीं देने का अपील करते हुए वीडियो में वह देखी जा सकती है।

चुनाव अधिकारी ने कहा कि उसकी भाषण आईपीसी की धारा 153 ए के तहत अपराध की श्रेणी में है जो धर्म जाति जन्म स्थान निवास भाषा आदि के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच सद्भाव को खराब करने को प्रेरित कर रहा है।

महिला ने अपनी पहचान उजागर नहीं की है। हालांकि, चुनाव आयोग के मुख्य अधिकारी ने विडियो को सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्म से जल्द हटाने का आग्रह किया है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top