Hindi

जिंदा साधु को ‘मार डाला’ कॉन्ग्रेसी नेता ने, राजनीति के नाम पर फैलाया झूठ

उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले के इटियाथोक थानांतर्गत तिर्रे मनोरमा में राम जानकी मंदिर के पुजारी अतुल बाबा उर्फ सम्राट दास को जमीनी विवाद के कारण गोली मार दी गई। घटना शनिवार (अक्टूबर 10, 2020) देर रात करीब 2 बजे घटी। बदमाशों ने जब पुजारी पर हमला किया, उस वक्त वह गहरी नींद में थे।

मीडिया रिपोर्ट्स में उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है। वहीं, सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आई है, जिसमें वह बात करते नजर आ रहे हैं। इस बीच इस पूरे मामले पर कॉन्ग्रेस का फर्जी चेहरा दोबारा उजागर हुआ है।

जी हाँ, कॉन्ग्रेस के महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्विटर पर दावा किया है कि गुंडों ने पुजारी की हत्या कर दी है और साथ में लिखा है कि काश हिंदी मडिया के चैनल राजस्थान की तरह यूपी में भी जवाबदेही माँगते।

उन्होंने लिखा, “अब गोंडा, यूपी में मंदिर के पुजारी संत सम्राट दास की गुंडों ने की सरे आम हत्या। काश हिंदी मीडिया के चैनल और साथी राजस्थान की तरह यहाँ भी जबाबदेही माँगते। ओह! भूल हो गई !!! आदित्यनाथ व भाजपा से जबाब माँगना मना है।”

गौरतलब है कि एक ओर जहाँ खबरों में बताया जा रहा है कि हालत गंभीर होने के कारण पुजारी सम्राट दास को जिला अस्पताल से लखनऊ रेफर किया गया है। वहीं उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री के सूचना सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी का दावा है कि सम्राट दास की स्थिति स्थिर है।

त्रिपाठी ने सुरजेवाला के झूठ की पोल खोलते हुए कल रात 10 बजे पुजारी की वीडियो शेयर की। उन्होंने लिखा, “कॉन्ग्रेस फेक न्यूज की फ़ैक्टरी है,आप जिनकी हत्या की बात कर रहे हैं, वे संत जी पूरी तरह स्वस्थ हैं। शरीर पर मामूली चोट है। वे पुलिस कार्रवाई से पूरी तरह संतुष्ट हैं। ज़मीनी रंजिश में जिन लोगों ने हमला किया, वे गिरफ़्तार हो चुके हैं, पर आपको तो झूठ फैलाना है,अपने कुकर्म ढँकने के लिए !!”

इसके अलावा गोंडा पुलिस ने भी रणदीप सुरजेवाला के ट्वीट पर वास्तविक स्थिति बताई है। ये ट्वीट 14 घंटे पुराना है। पुलिस ने बताया कि शिकायत के आधार पर 2 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है और उनसे पूछताछ भी चल रही है। पुलिस ने पुजारी की स्थिति अवगत कराते हुए कहा कि उनका इलाज केजीएमयू लखनऊ में चल रहा है, जहाँ पर स्थिति सामान्य है। पुलिस ने बताया कि टीमें गठित करके अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी का प्रयास चल रहा है।

बता दें कि कॉन्ग्रेस के झूठ की पोल खुलने के बाद रणदीप सुरजेवाला के खिलाफ़ एक्शन लेने की माँग की जा रही है। पुजारी की वीडियो शेयर करके कहा जा रहा है, “रणदीप सुरजेवाला ने बिन जानकारी कहा कि उनकी हत्या हो गई है। कॉन्ग्रेस वालों सौ बार झूठ बोलने से सच्चाई नहीं बदल जाती।” वहीं एक दूसरे ट्विटर यूजर का कहना है कि डॉक्टरों ने संत को खतरे से बाहर बताया है। उनका इलाज केजीएमयू अस्पताल में चल रहा है।

क्या है पूरा मामला?
उत्तरप्रदेश की पौराणिक नदी मनोरमा के उद्गम स्थल तिर्रे मनोरमा में राम जानकी मंदिर के पास 120 बीघे भूमि है। पूरा विवाद इसी को लेकर था। बताया जा रहा है कि इस भूमि की आय मंदिर को मिलती है और अतुल बाबा उर्फ सम्राट दास यहाँ के मुख्य पुजारी हैं जबकि मंदिर के महंथ सीताराम दास हैं।

घटना वाली रात पुजारी सम्राट दास मंदिर के भीतर सोए हुए थे और महंथ बाहर सो रहे थे। तभी करीब 2 बजे अंदर सोए पुजारी सम्राट दास को कुछ लोगों ने मंदिर के भीतर घुसकर गोली मार दी। गोली की आवाज सुनकर महंथ उठे और शोर मचाने लगे।

इसके बाद गाँव के लोग इकट्ठा होना शुरू हुए, मगर तभी सभी आरोपित मौके से फरार हो गए। खून से लथपथ देख पुजारी सम्राट दास को घायल अवस्था में जिला अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उनके सीने में गोली लगने से उनकी हालत काफी बिगड़ गई और उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया गया।

महंथ सीताराम दास का कहना है कि दबंगों ने मंदिर की जमीन कब्जाने के लिए पुजारी को गोली मारी है। प्रधान अमर सिंह समेत कई लोगों पर महंथ ने हमला करने का आरोप लगाया है। पुलिस के आलाधिकारी मामले की जाँच पड़ताल कर रहे हैं व बाकी आरोपितों की तलाश भी जारी है।

ताजा अपडेट के मुताबिक, इस पूरे केस में कोतवाल संदीप सिंह को लाइन हाजिर किया गया है और उनका कार्यभार संदीप दुबे को सौंपा गया है। संदीप सिंह पर कार्रवाई, पूरे मामले में लापरवाही बरतने के कारण हुई है। कहा जा रहा है कि उन्हें मंदिर के महंथ ने पहले ही सूचना दी थी कि कुछ लोगों ने मंदिर के पास बम फोड़ा है। हालाँकि, संदीप सिंह ने उनकी सुनने की बजाय इस बात से इंकार कर दिया कि कोई बम नहीं फूटा। इसके बाद पुजारी को गोली मारने की घटना हो गई।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top