featured

23 दिसंबर को ‘किसान दिवस’, दिल्ली बॉर्डर से किसानों की ‘अपील’

kisan andolan

26 नवंबर से चल रहे किसान आंदोलन के 25वें दिन प्रेस कॉन्फ्रेंस में किसानों की तरफ से कहा गया कि जबतक तीनों बिल वापस नहीं होंगे और एमएसपी पर कानून नहीं बनेगा तबतक किसान आंदोलन खत्म नहीं करेंगे. इस बीच किसानों का ये भी आरोप है कि केंद्र सरकार ने बहुत सारे किसानों को अलग-अलग राज्यों में परेशान करना शुरू कर दिया है. इनकम टैक्स विभाग छापेमारी कर रही है, जो कलाकार किसान आंदोलन के समर्थन में आए हैं, आरोप है कि उनको भी परेशान किया जा रहा है.

23 दिसंबर के लिए किसानों की अपील

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने लोगों से अपील की है कि 23 दिसंबर को किसान दिवस के मौके पर एक समय का खाना ग्रहण न करें और किसान आंदोलन को याद करें.

इस बीच न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि कृषि मंत्री सोमवार या मंगलवार को किसानों से मुलाकात कर गतिरोध को खत्म करने की कोशिश करेंगे.

दिल्ली से विरोध प्रदर्शन कर लौटे पंजाब के किसान ने की खुदकुशी

बता दें कि 20 दिसंबर को मृतक किसानों के लिए संयुक्त किसान मोर्चा की तरफ से श्रद्धांजलि सभा रखी गई. सिंघु बॉर्डर,गाजीपुर बॉर्डर पर बड़ी संख्या में किसानों ने इस श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया था. इस बीच न्यूज एजेंसी IANS की खबर के मुताबिक, पंजाब के बठिंडा जिले के अपने गांव में 22 साल के एक किसान ने जहरीला पदार्थ खा कर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली. किसान दिल्ली सीमा पर चल रहे विरोध प्रदर्शन से वापस अपने गांव लौटा था. दयालपुरा मिर्जा गांव के रहने वाले गुरलाभ सिंह नाम का किसान शनिवार देर रात दिल्ली सीमा से अपने गांव लौट कर आया था.उसे पास के अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top