Bihar

सीएम नीतीश ने कहा, बिहार में कानून राज कायम रहेगा, क्राइम, करप्शन और कम्युनलिज्म को ना बर्दाश्त किया है और ना ही करेंगे

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है की राज्य में कानून का राज स्थापित करना हमारी पहली प्राथमिकता थी। इसे हमलोगों ने हासिल किया है। इसमें पुलिस की बहुत बड़ी भूमिका रही है। आगे भी कानून का राज कायम रहेगा। हमने क्राइम, करप्शन और कम्युनलिज्म को ना बर्दाश्त किया है और ना ही करेंगे। मुख्यमंत्री गुरुवार को पुलिस के 124 भवनों का उद्घाटन और 96 भवनों ऑनलाइन शिलान्यास करने के बाद अपना संबोधन दे रहे थे।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2005 के पहले राज्य में विधि-व्यवस्था की स्थिति ठीक नहीं थी। शाम ढलने के बाद लोग घरों से निकलते नहीं थे। कई-कई नरसंहार भी राज्य में हुए। वर्ष 2005 के बाद विधि व्यवस्था में काफी सुधार लाया गया है। अब लोग कभी भी निर्भीक होकर घरों से निकलते हैं। अपने शासनकाल में हमने कभी भी पुलिस को ना किसी को फंसाने और ना ही बचाने के लिए कहा है। समाज में जो भी गलती करेगा उस पर करवाई निश्चित है।

पुलिस कर्मियों के रहने के इंतजाम नहीं थे
मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस कर्मियों के रहने के इंतजाम राज्य में नहीं थे। थाना भवनों बोलो की स्थिति अच्छी नहीं थी। हमारी सरकार ने एक-एक चीज पर ध्यान दिया। नए-नए थाने भवन बने। पुलिस कर्मियों के रहने के लिए भी बेहतर इंतजाम किए गए। थानों में महिलाओं के लिए अलग शौचालय आदि के इंतजाम किए गए महिला पुलिस के लिए 35% आरक्षण दिया गया। बिहार में पुलिस बल में महिलाएं जितनी संख्या में है, देश में और किस राज्य में नहीं हैं। थानों के बहुमंजिला भवन बनाए गए राजगीर में पुलिस एकेडमी का सुंदर भवन का निर्माण कराया जा रहा है।

पुलिस को मिले 124 नए भवन
बिहार पुलिस को 124 नए भवन मिले। इनमें करीब तीन दर्जन थानों के भवन हैं, जिनमें आदर्श थाना और रेल थाना भी शामिल है। 400 करोड़ की लागत से इंन भवनों का निर्माण कराया गया। मुख्यमंत्री ने इनका उद्घाटन किया। वही 255 करोड़ की लागत से बनने वाले 96 भवनों का शिलान्यास भी किया। इस मौके पर मुख्य सचिव दीपक कुमार वह बिहार पुलिस भवन निर्माण निगम के अध्यक्ष सुनील कुमार भी उपस्थित थे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top