Elections

बीजेपी छठे चरण में टीएमसी पर पड़ सकती है भारी, इसका मतुआ समुदाय के मतदाता से क्या है कनेक्शन

गुजरात

पश्चिम बंगाल में कोरोना महामारी के बीच हो रहे छठे चरण के मतदान को लेकर सियासी पारा सातवें आसमान पर चढ़ा गया है। राजनीतिक पंडितों के अनुसार बीजेपी और टीएमसी के बीच सीधी टक्कर होने के आसार हैं, तो वहीँ कांग्रेस-वाम मोर्चा संगठन अपना तीसरा कोण तैयार कर रहा हैं। यह छठें चरण का चुनाव बीजेपी के दृष्टिकोण से काफी महत्वपूर्ण मना जा रहा है। इसकी सबसे बड़ी वजह मतुआ समुदाय के मतदाता माने जा रहे है, इनके हाथ में ही बीजेपी अपनी पतवार सौंपी हुई है।

दरअसल मतुआ समुदाय पश्चिम बंगाल की अनुसूचित जाति की आबादी का बड़ा हिस्सा है। वर्ष 1950 से ही पहले पूर्वी पाकिस्तान और अब बांग्लादेश से पश्चिम बंगाल में पलायन कर रहा है और इसकी बड़ी वजहों में एक धार्मिक आधार पर उत्पीड़न रहा है। माना जाता है कि राज्य में मतुआ जाति के 30 लाख लोग हैं जो नादिया, उत्तर और दक्षिण 24 परगना की चार लोकसभा सीटों और 30 से 40 विधानसभा सीटों के नतीजों को प्रभावित करते हैं।

भाजपा के सांसद और मतुआ ठाकुरबाड़ी गुट (प्रभावशाली सामाजिक धार्मिक गुट) के नेता सांतनु ठाकुर कहते हैं, ‘तृणमूल कांग्रेस और माकपा सरकार ने मतुआ के लिए कुछ नहीं किया। यह भाजपा है जिसने समुदाय की चिंता की। इसलिए नागरिकता का वादा किया।’

उन्होंने कहा, ‘भाजपा ने सांसद में सीएए पारित कराया लेकिन तृणमूल कांग्रेस ने पूरी ताकत से बंगाल में इसका विरोध किया। हम इस अन्याय के खिलाफ मतदान करेंगे।’ इसका विरोध करते हुए तृणमूल कांग्रेस की पूर्व सांसद और समुदाय की दिवंगत मातृ नेत्री बीनापानी देवी की बहू ममताबाला ठाकुर ने दावा किया कि भाजपा झूठे वादे कर शरणार्थियों को बेवकूफ बना रही है।

उन्होंने कहा, ‘मतुआ इस देश के नागरिक हैं। उन्हें अपनी नागरिकता साबित करने की कोई जरूरत नहीं है।’ उल्लेखनीय है कि सीएए में 31 दिसंबर 2014 तक अफगानिस्तान, पाकिस्तान बांग्लादेश से आए हिंदु, सिख, बौद्ध, ईसाई, जैन और पारसी समुदाय के लोगों को भारतीय नागरिकता देने का प्रावधान है।

पश्चिम बंगाल के भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, ‘अधिकतर लोग धार्मिक उत्पीड़न की वजह से बांग्लादेश से भारत आए हैं। अब अगर हम उन्हें नागरिकता नहीं देंगे, तो वे कहां जाएंगे? सीएए हमारे लिए राजनीतिक मुद्दा नहीं है बल्कि हमारी वैचारिक प्रतिबद्धता का मूल हिस्सा है।’

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WHATS HOT

Most Popular

To Top