Hindi

सरकार गिराने को पता नहीं कितने नेताओं ने पहली किस्त ले ली है, पायलट गुट पर अशोक गहलोत का तंज

राजस्थान में 20 से अधिक दिनों से जारी सियासी संग्राम थमने के बजाए बढ़ता ही जा रहा है। विधायकों की खरीद-फरोख्त का जिन्न एक बार फिर गुरुवार (29 जुलाई) को बाहर आ गया है। गहलोत सरकार गिराने के आरोप झेल रहे सचिन पायलट पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक बार फिर खुलकर जुबानी हमला बोला है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सचिन पायलट के समर्थन में दिल्ली व हरियाणा के होटलों में गुप्त रूप से रह रहे विधायकों पर तंज कसते हुए कहा कि सरकार गिराने को पता नहीं कितने नेताओं ने पहली किस्त ले ली है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने तंज भरे लहजे में कहा कि हो सकता है अभी कुछ ने पहली किस्त नहीं ली हो। ऐसे नेताओं से चाहूंगा की वे बगावत छोड़ वापस आ जाएं।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इससे पहले कहा कि अगर सचिन पायलट को सरकार से नाराजगी थी, तो वह एआईसीसी (अखिल भारतीय कांग्रेस समिति) में जाकर बैठते। पीसीसी (प्रदेश कांग्रेस समिति) आकर बात करते, लेकिन वे भाजपा की गोद में जाकर क्यों बैठे हैं? विधायकों के खरीद फरोख्त को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि सत्र तय होते ही विधायकों का भाव आसमान छूने लगा है। पहले विधायकों की कीमत 10 15 से लेकर 20 से 25 करोड़ थी। लेकिन, अब सत्र की तारीख तय होते ही भाव आसमान छू गया है और विधायकों को मुंह मांगा पैसा देने की बात सामने आ रही है।

प्रदेश में जारी इस घमासान के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जयपुर के दिल्ली रोड स्थित होटल फेरमोंट की बाड़ाबंदी में रह रहे सरकार के साथ खड़े विधायकों को शुक्रवार (31 जुलाई) को जैसलमेर शिफ्ट कर दिया। अब ये सभी विधायक 14 अगस्त को सत्र शुरू होने तक जैसेलमेर में ही रहेंगे।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पायलट व उनके समर्थक विधायकों के साथ ही भाजपा व केंद्र सरकार पर भी जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत का इस्तीफा अब तक नहीं होना अचरज भरा है। सीएम गहलोत ने बसपा सुप्रीमो मायावती को भी आड़े हाथों लिया और कहा कि बसपा सुप्रीमो मायावती भी भाजपा से मिली हुई है।

मुख्यमंत्री गहलोत ने केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि यह लोग हमें ईडी व इनकम टैक्स का डर दिखा रहे हैं। भाजपा के दबाव पर कांग्रेस नेता विधायकों का ठेका लेकर बैठे थे, उनके माध्यम से हॉर्स ट्रेडिंग हो रही थी। गहलोत ने आरोप लगाया कि मोदी ने लोकतंत्र की धज्जियां उड़ा दी हैं। सरकारों को अस्थिर किया जा रहा है। गहलोत ने कहा कि राजस्थान में इन लोगों को मुंह की खानी पड़ेगी। यहां हम एकजुट है और सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top